मुख्य पृष्ठ

दृष्टिकोणः

सूचना एवं संचार तकनीकी के उपयोग से विद्यालय स्तरीय निष्पादन क्षमता के संवर्धन तथा शिक्षण और अधिगम प्रक्रिया को सुगम, सुरुचिपूर्ण और सर्व सुलभ बनाने के लिए आई.सी.टी. उपकरणों की व्यवस्था द्वारा वर्तमान पाठ्यक्रम और विधियों को समृद्ध कर विद्यार्थियों को डिजिटल विश्व से आत्मसात् करवाने और प्रभावी रोजगार के लिए आवश्यक कौशलों को प्राप्त करने के योग्य बनाने हेतु राज्य के विद्यालयों में आईसीटी का उपयोग किया जा रहा है। विद्यालयों में आई.सी.टी का उपयोग दो दृष्टिकोणों से किया गया है, आईसीटी ‘‘स्वयं एक विषय’’ के रूप में तथा दूसरा ‘‘शिक्षण अधिगम प्रक्रिया सवर्धन उपकरण’’ के रूप में।