डिजीटल लिटरेसी कार्यक्रम

डिजीटल लिटरेसी कार्यक्रम:

माननीय मुख्यमंत्री महोदया द्वारा वर्ष 2015-16 में की गई बजट घोषणा के क्रम में राज्य डिजीटल लिटरेसी कार्यक्रम प्रारम्भ किया गया है, जिसमें RKCL द्वारा विद्यालयों की आईसीटी लैब में प्रशिक्षण केन्द्र स्थापित कर एवं स्वयं अपने प्रशिक्षण केन्द्रो पर शिक्षकों को कम्प्यूटर प्रशिक्षण प्रदान किया जा रहा है। प्रारम्भ में शिक्षकों को प्रशिक्षण लेने हेतु निर्देशित दिया जायेगा। जिसमें मध्य दिसम्बर 2015 तक 51,666 शिक्षकों एवं अन्य कार्मिकों द्वारा प्रशिक्षण हेतु पंजीकरण करवाया जा चुका है।